Categories
Information

Scientific Redirects SEO Guide Hindi – Best Guide 2022

दोस्तों आज के ब्लॉग में scientific redirects seo guide hindi में जानकारी प्राप्त करेंगे। आपको पता होगा की वेबसाइट Redirect ब्राउज़रों और सर्च इंजनों को URL के बारे में और वेबपेज को खोजने के बारे में जानकारी बताता है।

Redirect का सही तरीके से उपयोग करना आवश्यक है क्योंकि वे Google द्वारा वेबसाइटों को क्रॉल और index करने के तरीके को प्रभावित करता है।

HTTP Response कोड

GoogleBot जैसे ब्राउज़र और सर्च इंजन क्रॉलर को यूजर एजेंट कहा जाता है।

जब कोई यूजर एजेंट किसी वेबपेज तक पहुँचने की कोशिश करता है, तो क्या होता है कि यूजर एजेंट एक अनुरोध करता है, और वेबसाइट सर्वर प्रतिक्रिया जारी करता है।

प्रतिक्रिया को HTTP Response status कोड कहा जाता है

उस स्थिति में जहां GoogleBot जैसा यूजर एजेंट URL को अनुरोध करता है, सर्वर एक प्रतिक्रिया देता है।

उदाहरण के लिए, यदि किसी URL के लिए अनुरोध सफल होता है, तो सर्वर 200 का एक प्रतिक्रिया कोड प्रदान करेगा, जिसका अर्थ है कि URL के लिए अनुरोध सफल रहा।

इसलिए जब आप सोचते हैं कि GoogleBot किसी वेबसाइट तक पहुंच रहा है और उसे क्रॉल करने की कोशिश कर रहा है, तो जो यह प्रक्रिया हो रही होती है वह एक अनुरोधों और प्रतिक्रियाओं की एक श्रृंखला है।

Scientific Redirects SEO Guide Hindi (The Meaning Of A Redirect)

जब हम Redirect के बारे में बात करते हैं, तो हम जिस बारे में बात कर रहे हैं वह एक सर्वर प्रतिक्रिया है। यह एक यूआरएल के अनुरोध का जवाब है। यदि कोई पुराना url किसी नये url पर है तो हम उसे नये वाले url पर Redirect कर देते हैं।

जिससे की कोई भी user पुराने वाले url पर क्लिक करेगा तो वह Automatic नये वाले url पर पहुँच जाएगा।

बदले गए URL के लिए Responce कोड आमतौर पर 301 या 302 Responce कोड के रूप में होता है। तो, एक 301 और एक 302 रिडायरेक्ट एक इंटरनेट रोड़ साइन से अधिक है जो कहता है, “यहाँ जाओ, वहाँ नहीं।”

Responce कोड की 3XX श्रृंखला (3XX Series Of Status Codes)

रिडायरेक्ट दो Status Codes से अधिक हैं जिनसे हर कोई परिचित है  जिसमें 301 और 302 Responce कोड काफी महत्वपूर्ण है। आज उसी scientific redirects seo के बारे में बात करने वाले हैं।

कुल सात ऑफिसियल 3xx Responce Status Codes हैं जो विभिन्न प्रकार के रिडायरेक्ट उपयोग के लिए होते हैं:

  • 300 Multiple Choices.
  • 301 Moved Permanently.
  • 302 Found.
  • 303 See Other.
  • 304 Not Modified.
  • 305 Use Proxy.
  • 306 (Unused).
  • 307 Temporary Redirect.
  • 308 Permanent Redirect.

उपरोक्त में से कुछ Status Codes इतने लंबे समय से नहीं हैं और शायद उनका उपयोग नहीं किया जा सकता है। इसलिए, 301 या 302 के अलावा किसी भी रिडायरेक्ट कोड का उपयोग करने से पहले, सुनिश्चित करें कि इच्छित उपयोगकर्ता एजेंट इसकी व्याख्या कर सकता है।

SEO (एसईओ) के लिए, किसी को 301 और 302 Responce कोड का उपयोग करना चाहिए, जब तक कि अन्य कोडों में से किसी एक का उपयोग करने का कोई विशेष कारण न हो। लेकिन हम यहां technical seo to redirects 301 और 302 कोड क्या होता है इस पोस्ट में मुख्य रूप से उसी पर चर्चा करेंगे।

301 Redirecting Moved Permanently : (Scientific Redirects SEO Guide in Hindi)

जब किसी पुराने वेबपेज के url को एक नये url में Permanent Redirect कर देते हैं तो उसे 301 Redirect कहते हैं। इसमें जब कोई यूजर या फिर सर्च इंजन बोट्स पुराने url पर क्लिक करते हैं तो वह ऑटोमेटिक नये url पर Redirect हो जाता है।

इसे एक उदहारण द्वारा समझा जा सकता है। मान लीजिये किसी वेबपेज का url चेंज करने पर 301 Rrdirect जरुरी हो जाता है। माना की कोई वेबसाईट ब्लॉगर पर बना है और उसके वेबपेज का url है – https: // Example.com / 2022 / 07 / webpage -url . html. अब इस ब्लॉगर वेबसाईट को WordPress में Migrate कर दिया गया है और उस वेबपेज का url बदल कर URL https://xyz.com/webpage-url में बदल दिया है।

अब पुराना वाला वेबपेज का url तो चेंज हो गया लेकिन कोई यूजर पुराने वाले वेबपेज का url पता है और नये url के बारे में नही जानता जिसे Redirect किया गया है तो वह पुराने वाले url पर क्लिक करेगा और सर्च बोट्स जो रिजल्ट लाएगा तो उस वेबपेज में 404 का error आयेगा। जिससे की यूजर का अनुभव खराब होगा और सर्च इंजन में वेबपेज का रैंकिंग भी खराब होगा।

इसे भी पढ़ें Basic Image Alt Text SEO Kya Hai || Best ways – 2022

लेकिन वही 301 Redirect का प्रयोग किया गया है और जिस पेज को रिडायरेक्ट किया गया है तो यूजर पुराने url पर क्लिक करेगा भी तो वह Automatic नये url पर आसानी से पहुँच जाएगा।

पेज को 301 में Redirect करने का बड़ा लाभ यह है की जिस पेज को 301 में Redirect करते हैं तो उस पेज की सारी Value भी नये url में ट्रांसफर हो जायेगी। जैसे backlink, ranking, पेज अथॉरिटी आदि। यह SEO के नजरिये से भी बहुत महत्वपूर्ण है। ऐसे में 301 Redirect का प्रयोग बहुत किया जाता है।

Redirection 302 क्या है

जब किसी एक वेबपेज को किसी दुसरे URL में Temporary Base पर Redirect करते हैं तो यह 302 Redirect कहलाता है।

इसका प्रयोग तब किया जाता है जब किसी पेज पर काम काम किया जा रहा है पेज एडिट किया जा रहा है यानी पेज Maintenance Mode पर है तो विजिटर उस वक्त पेज पर आयेंगे जिस पेज पर काम हो रहा है तो टेम्पोरेरी बेस पर यूजर किसी दुसरे url में redirect हो जायेगा।

हालांकि इसका उपयोग कम ही किया जाता है। इसमें वेबपेज की वैल्यू जस की तस रहती है कोई Value ट्रांसफर नही होता। E-Commerce वेबसाईट में इसका प्रयोग किया जाता है।

कब करते हैं Redirection (When to do Redirection)

यह जानना महत्वपूर्ण है की आखिर वेबपेज को Redirect कब करना होता है तो आईये Scientific Redirects SEO में यह भी जान लिया जाए की कब करना है Redirect.

  • जब वेबपेज का url बदलना हो तब Redirect करते हैं।
  • जब वेबसाईट में किसी पोस्ट कंटेंट को डिलीट करना हो।
  • जब वेबपेज मेंटेन करना हो।
  • साईट को किसी दुसरे url में बदलना हो।

वर्डप्रेस पर Redirection कैसे करें (Redirection For WordPress)

Scientific Redirects SEO Guide hindi में वर्डप्रेस के अंदर कैसे रिडायरेक्ट करना है चलिए इसे स्टेप by स्टेप जानते हैं।

Step 1 – सबसे पहले आपको  वर्डप्रेस में एक Plugin को Install करके उसे Active कर लेना है, जिसका Name है – Redirect.

scientific-redirects-seo-guide-hindi

Step 2- प्लगइन के सेटिंग्स में जा कर Active पर Click कर देना है।

Step 3 – जब आप  Setting पर क्लिक करेंगे तो आप इसके Dashboard पर आ जायेंगे फिर यहाँ आपको Redirect वाले Option पर क्लिक कर देना है।

Step 4 – उसके बाद अब Add New Redirect करना है।

यहाँ आपको Source URL को अपने पुराने URL में Add कर देना है और फिर Target URL के बॉक्स में जैसा की स्क्रीन शॉट में दिखाया गया है। वहाँ अपने नए URL को Add कर देना है। नीचे वाले Group बॉक्स  में ड्राप डाउन बॉक्स पर क्लिक कर के Redirection के Option को Choose करना है और फिर Add Redirect के Button पर Click कर देना है। इस तरह आपकी Redirection की Process Complete हो जाएगी।

उम्मीद करता हूं कि Scientific Redirects SEO Guide Hindi में आपको अच्छा लगा होगा और समझ गए होंगे की url को कैसे रिडायरेक्ट करते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *